कातिल मां का बेटे ने खोला राज, प्रेमी संग मिलकर कर डाली पति की हत्‍या

बेंगलुरु में सामने आई एक वारदात में बेटे की गवाही के बाद कातिल मां का राज खुलकर सामने आया। जहां कातिल महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति के कत्‍ल की वारदात को अंजाम दिया।

कातिल मां का बेटे ने खोला राज, प्रेमी संग मिलकर कर डाली पति की हत्‍या
concept pic

हत्‍या को बताया नैचुरल डेथ

बेंगलुरु के बाहरी इलाके कारेनहल्ली (डोडाबल्लापुरा) में रहने वाले 40 वर्षीय एन राघवेंद्र की मौत के खुलासे के बाद लोग सकते में आ गए। जिसकी मौत को पहले नैचुरल डेथ यानी प्राकृतिक कारणों से हुई मौत माना जा रहा था, लेकिन अचानक उसकी मौत में एक मोड़ आया। एन राघवेंद्र की मौत के बाद उसकी आत्‍मा की शां‍ति के लिए हुई प्रार्थन सभा में उसके 10 वर्षीय बेटे ने उसकी मौत के राज से पर्दा उठा दिया। पुलिस के अनुसार, एन राघवेंद्र 27 दिसंबर 2021 को बेंगलुरु के कारेनहल्ली, डोडाबल्लापुरा में अपने घर के अंदर मृत पाया गया था। उसकी 30 वर्षीय पत्नी शैलजा ने अपने पति के भाई, शेखर को लगभग 2 बजे फोन करके बताया था कि राघवेंद्र मिर्गी के दौरे के चलते गिर गया। जिसके बाद वे उसे अस्पताल ले गए, जहां राघवेंद्र को मृत घोषित कर दिया गया।

प्रार्थना सभा में बेटे ने किया खुलासा

बताया गया कि दो हफ्ते बाद, परिवार ने मृतक राघवेंद्र की आत्‍मा की शां‍ति के लिए एक प्रार्थना सभा रखी, जिसमें शैलजा और उसके बेटे व बेटी ने मौजूद थे। इस दौरान अपने दादा नंजुंदप्पा से बात करते हुए राघवेंद्र के 10 वर्षीय बेटे ने हकीकत बयां कर दी। उसने अपने दादा को बताया कि जिस दिन उसके पिता की मृत्यु हुई उस दिन घर में एक और व्यक्ति भी था। इसके बाद नंजुंदप्पा ने अपने बेटे शेखर को बताया जिसने फिर बच्चे से सारी बात पूछी। इसके साथ ही राघवेंद्र की नैचुरल डेथ से पर्दा उठ गया और यह मौत कत्ल में बदल गई। जिसकी जानकारी पुलिस को दी गई। 

ये भी पढ़ें-

झारखंड: पत्नी की हत्या कर 12 दिन तक पति सोता रहा शव के साथ

बेटे के सामने किया पिता का कत्‍ल

राघवेंद्र के बेटे ने बताया कि आधी रात को घर में शोर सुनाई दिया तो वह उठ गया। वहां जाकर देखा कि उसके पिता को उसकी माँ और नानी ने नीचे दबाया हुआ था, जबकि एक अन्य व्यक्ति उसके पिता के सिर पर बेलन से वार कर रहा था। लड़के ने कहा, “मैंने उनसे पूछा कि वे मेरे पिता को क्यों मार रहे हैं। तभी उस आदमी ने मुझे जोर से मारा और कहा कि 'अपना मुंह बंद रखना और इस बारे में किसी को कुछ नहीं बताना नहीं तो तुझे भी मार डालूंगा'। मैं डर गया और वापस बिस्तर पर चला गया।"

अफेयर की जानकारी पर बनाई योजना

बताया गया कि राघवेंद्र के बेटे की बात सुनने के बाद शेखर ने अपने भाई के घर के पास एक दुकान के सीसीटीवी फुटेज की जांच की, तो पाया कि एक व्यक्ति देर रात घर में घुस रहा था। इसके बाद पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी शैलजा, उसकी मां लक्ष्मी देवम्मा (50) और हनुमंथा (30) को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि हनुमंथा उसी गारमेंट फैक्ट्री में काम करता है जहां शैलजा काम करती है। पुलिस ने बताया कि दोनों के बीच अफेयर चल रहा था। जिसको लेकर राघवेंद्र ने शैलजा से हनुमंथ के साथ उसके संबंधों के बारे में कई बार पूछताछ की थी, इसलिए इन लोगों ने मिलकर उसकी हत्या करने की योजना बनाई।

ये भी पढ़ें-

अमेरिका में हॉस्टेज क्राइसिस खत्म, “लेडी अल-कायदा” की रिहाई की मांग करने वाला ढेर